0
    31

    समाजवादी पार्टी वरिष्ठ नेता सांसद पूर्व मंत्री उत्तर प्रदेश आजम खान को ढाई महीने बाद अस्पताल से छुट्टी मिल गई है. 30 अप्रैल को आजम खान की कोविड 19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद 1 मई को उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल में एडमिट कराया गया था. करीब ढाई महीने चले इलाज के बाद मंगलवार को आजम खान को डिस्चार्ज कर दिया गया

    अस्पताल की ओर से जारी बुलेटिन में कहा गया है कि आजम खान और उनके बेटे दोनों अब ठीक हैं. लेकिन आजम की पत्नी का कहना है कि वो अभी ठीक नहीं हैं, तो उन्हें जेल क्यों भेजा जा रहा है.

    आजम खान लखनऊ की सीतापुर जेल में बंद थे. अप्रैल के आखिर में उनकी तबीयत अचानक बिगड़ने लगी. कोरोना 19 की जांच की गई तो उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. हालत बिगड़ी तो उन्हें और उनके बेटे मोहम्मद अब्दुल्ला को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया. डिस्चार्ज होने के बाद उनको सीतापुर जेल में शिफ्ट कर दिया गया है

    आजम खान की पत्नी और रामपुर की विधायक डॉ. ताजीन फातिमा कोरोना वैक्सीन (Covid Vaccine) लगवाने पहुंचीं. उन्होंने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि अभी आजम खान पूरी तरह स्वस्थ नहीं हैं लेकिन फिर भी उन्हें जेल स्विफ्ट किया जा रहा है. इसके पीछे क्या वजह है और सरकार की क्या नियत है? वो नहीं समझ पा रही हैं.

    उन्होंने कहा वो अभी स्वस्थ नहीं हैं. उन्हें कोविड से जुड़े बहुत से कॉम्प्लिकेशन हैं. मैं नहीं जानती किन परिस्थितियों में और किन कारणों से उन्हें जेल में शिफ्ट किया जा रहा है. क्या साजिश है. क्या कारण है. मैं नहीं जानती कि बीमार इंसान को किन कारणों से अस्पताल से जेल शिफ्ट किया जा रहा है?

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here