जबरन रिटायर पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर हुए गिरफ्तार

    0
    32

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ने की घोषणा करने वाले पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर जिनको हाल ही में सरकार द्वारा नजरबंद कर दिया गया था उनको रेप पीड़िता को आत्मदाह के लिए उकसाने के आरोप में जबरन रिटायर किये गए पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर को लखनऊ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर की गिरफ्तारी एसआईटी जांच की रिपोर्ट के आधार पर हुई गिरफ्तारी से पहले अमिताभ ठाकुर से डीजी आर.के.विश्वकर्मा और एडीजी मीरा रावत ने पूछताछ की थी.

    बहुजन समाज पार्टी सांसद अतुल राय पर रेप का इल्जाम लगाने वाली लड़की ने अपनी एक अन्य साथी के साथ हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के बाहर आत्मदाह कर लिया था. यह लड़की वाराणसी में पढ़ाई कर रही थी. आत्मदाह से पहले इस लड़की ने फेसबुक लाइव करते हुए कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों पर सांसद को बचाने और उसे न्याय न मिलने देने के लिए ज़िम्मेदार ठहराया था. आत्मदाह में दोनों लड़कियां बुरी तरह से जल गई थीं और अस्पताल में इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई.

    अमिताभ ठाकुर पर इल्जाम है कि उन्होंने इस लड़की को आत्मदाह के लिए उकसाया था. 1992 बैच के आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर सरकारी नौकरी करते हुए भी सरकारी व्यवस्था के खिलाफ आवाज़ उठाते रहे हैं. उनकी पत्नी नूतन ठाकुर हाईकोर्ट में वकील और सामाजिक कार्यकर्ता हैं. नूतन ठाकुर और अमिताभ ठाकुर सरकारी व्यवस्थाओं के खिलाफ लगातार आवाज़ उठाते रहने की वजह से हमेशा चर्चा में बने रहते हैं.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here