कोरोना वायरस से लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, बरेली, गोरखपुर, झांसी, वाराणसी में विशेष सतर्कता बरती जाए।

    0
    362

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना से बचाव के प्रति अग्रिम रणनीति बनाकर कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण स्थापित किया जा सकता है। कोविड-19 संक्रमण के संबंध में लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, बरेली, गोरखपुर, झांसी, वाराणसी में विशेष सतर्कता बरती जाए।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण के संबंध में ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाएं। प्रदेश के प्रत्येक जनपद में एल-2 तथा एल-3 के कोविड बेड्स की संख्या बढ़ाई जाए।

    मुख्यमंत्री  ने कहा कि कोविड अस्पतालों में भर्ती मरीजों की स्थिति की माॅनिटरिंग के लिए सीनियर डाॅक्टर लगातार राउण्ड पर रहें। इसके अलावा काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग प्रभावी ढंग से सुनिश्चित की जाए।

    मुख्यमंत्री  MYogiAdityanath जी ने कहा कि सहारनपुर में एल-3 स्तर का अस्पताल शीघ्र बनाया जाए। जनपद शामली तथा बरेली में डेडिकेटेड कोविड डचिकित्सालय 16 अगस्त तक क्रियाशील हो जाएं।

    मुख्यमंत्री YogiAdityanath जी ने कहा कि कोरोना से प्रभावित लोगों को अस्पताल पहुंचाने के लिए फौरन एम्बुलेंस उपलब्ध हो, इसके लिए कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर्स को प्रभावी बनाया जाए। कन्ट्रोल सेन्टर्स के प्रभावी होने पर मरीज को समय पर इलाज उपलब्ध हो सकेगा।

    मुख्यमंत्री  ने कहा कि अस्पतालों की व्यवस्थाओं और सुविधाओं को त्वरित और बेहतर बनाया जाए।

    अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री श्री MYogiAdityanath जी को अवगत कराया गया कि अब तक प्रदेश में 31 लाख 18 हजार 567 कोविड-19 के टेस्ट किए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री जी को यह भी अवगत कराया गया कि शनिवार व रविवार के स्वच्छता व सैनिटाइजेशन के कार्य सफलता पूर्वक संपन्न कराए जा रहे हैं।

    मुख्यमंत्री MYogiAdityanath जी ने चिकित्सा शिक्षा विभाग को निर्देशित किया है कि प्रदेश के सभी मेडिकल काॅलेज में ICU के बेड्स की संख्या दोगुनी कर ली जाए। इसी तरह स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया कि वे अपने सभी जिला अस्पतालों में ICU के बेड्स बढ़ाने की प्रक्रिया तत्काल शुरू करें।

    मुख्यमंत्री MYogiAdityanath जी ने कहा कि बाढ़ व जलमग्न क्षेत्रों में प्रभावित लोगों को समय से राहत पहुंचायी जाए। साथ ही, इन स्थानों पर नाव व सुरक्षा आदि की दृष्टि से पुख्ता इन्तजाम किए जाएं।

    मुख्यमंत्री  ने कहा है कि जनपद पीलीभीत व आजमगढ़ की गोशालाओं में सभी आवश्यक इन्तजाम सुनिश्चित किए जाएं तथा हरे चारे की व्यवस्था की जाए।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here