अखिलेश यादव,टीपू से टीपू सुल्तान बन गया

    0
    44

    23 अक्टूबर 1972 को सैफई में एक लाल पैदा हुआ,
    बचपन का नाम था #टीपू
    अपने बचपन मे पिता जी राजनीति की व्यस्तता के चलते उस बच्चे के बचपन को समय नही दे पाए,

    बचपन से ही परिवार से दूर सैनिक स्कूल ( राजस्थान ) की बोर्डिंग में रह कर अपनी माध्यमिक शिक्षा प्राप्त की,
    उसके बाद मैसूर – कर्नाटका से बीटेक किया, और ऑस्ट्रेलिया में पर्यावरण से एमटेक किया,
    सादगी इस कदर की बीटेक करते समय या एमटेक करते समय उसके सहपाठी तक नही जानते थे कि वो किसका बेटा है,
    एक बहुत ही खूबसूरत और नेकदिल अंतरजातीय लड़की से मोहब्बत कर बैठा, अपने पिता और परिवार से उस लड़की से विवाह करने की इजाजत मांगी जो सख्ती के साथ इनकार कर दी गयी,
    काफी हील हुज्जत के बाद 1999 में उस बच्चे के पिता ने शर्त रख दी नौकरी छोड़ कर हिंदुस्तान वापस आओ राजनीति में मेरा साथ दो तुम जहां कहोगे वहां तुम्हारी शादी करवा दूँगा,
    राजनीति में कोई रुचि नही थी इसलिए उस लड़के ने ऑस्ट्रेलिया में अपनी नौकरी छोड़ कर हिंदुस्तान आने से इनकार कर दिया,
    काफी मान मनौव्वल के बाद भी जब बात नही बनी तो आदरणीय चाची जी ( आदरणीय सरला यादव जी ) खुद ऑस्ट्रेलिया गयीं, समझा कर, पिता और परिवार का वास्ता दे कर वापस लायीं,
    पहले विवाह हुआ और पिता की ख्वाइश पूरी करते हुए वो बेटा 1999 में कन्नौज से सांसद बना,
    जनता के मर्म को समझने और जनता एवं कार्यकर्ताओं के लिए लड़ने का माद्दा था उसमें, जिस वजहः से मात्र 13 साल के संघर्ष में यूपी के लोगों ने सर आंखों पर बैठा लिया,
    1972 का वो छोटा सा टीपू आज #टीपू_सुल्तान बन गया….
    दौर ऐसा आया कि हम जैसे हजारों लाखों लोगों में ऊर्जा का संचार हो जाता है सिर्फ Akhilesh Yadav को देख लेने मात्र से …..


    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here