NRC से मुसलमानों को घबराने की जरूरत नहीं-अयूब अशरफ किछौछवी

    0
    259

    लखनऊ 13/10/2019 आल इण्डिया मोहम्मदी मिशन के तत्वाधान में आज दोपहर दरगाह हजरत मख्दूम शाहमीना शाह के प्रागण में एक आम सभा काज़ी-ए-शहर मुफती अबुल इरफान मियाॅ फिरंगीमहली तथा हज़रत सैयद अयूब अशरफ राष्ट्रीय अध्यक्ष आल इण्डिया मोहम्म्दी मिशन की अध्यक्षता में आयोजित हुई। जिसमें मोहम्मदी मिशन के सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता ओलमाए एकराम, आईमाए मसाजिद ने भाग लिया। मिशन की इस बैठक में सर्वसम्मित से यह प्रस्ताव पारित किया गया कि पूर्व वर्षो की भाॅति इस वर्ष 10/11 नवम्बर को भी पराम्परागत जुलूस-ए-मोहम्मदी एवं जश्ने -मोहम्मदी का आयोजन किया जाएगा। जश्ने ईदमीलादुन्नबी के सम्बन्ध में सभी ने यह माॅग की कि जिला प्रशासन को जुलूस निकालने एवं जश्ने -मोहम्मदी मनाने के स्थान के निर्धारण का निर्णय 25 अक्टूबर तक अवश्य कर दे अन्यथा 26 अक्टुबर से मिशन को तहरीके -ए-मोहम्मदी चलाने पर विवश होना पड़ेगा।

    हज़रत सैयद अयूब अशरफ राष्ट्रीय अध्यक्ष आल इण्डिया मोहम्म्दी मिशन ने जलसे को सम्बोधित करते हुए कहा कि पैगम्बर मोहम्मद सल्ललाहो अलेही वसल्लम का जन्म सम्पूर्ण मानवता के लिए शान्ति पे्रम सद्भाव की मिसाल है।

    उनके जन्म दिवस को पीस डे के रूप में मनाया जाए। उन्होंने कहा कि एस.आर.सी. से मुस्लमानों को किसी भी प्रकार से घबराने की आवश्यकता नही है।

    बल्कि मुस्लमानों को सिर्फ अपनी नस्लों को सर्वोच्च शिक्षा देने पर ज़ोर देना चाहिए और खुदा के फज़ल पर भरोसा करें। श्री अशरफ ने कहा कि एन.आर.सी. के विषय में मिशन लोगो के साथ खड़ा है और इस विषय पर अति शीघ्र आम जनता के लिए एक आवश्यक मार्गदर्शन जारी करेगा।

    उन्होंने कहा कि अनपढ़ से अनपढ़ इन्सान जब अपनी सम्पत्ति क्रय करता है तो उसका बैनामा अवश्य करवाकर उसके दस्तावेज सभाल कर रखता है ताकि उसकी इस सम्पत्ति पर कोई कब्ज़ा न कर सके तो फिर देश की नागरिकता और उससे सम्बन्धित दस्तावेज बनवाने में क्यों पीछे रहता है यह हमारा संवैधानिक कर्तव्य बनता है कि हम अपने और अपने परिवार के दस्तावेज़ समय पर बनवा कर रखे। मिशन संरक्षक हज़रत मुफती अबुल इरफान मियाॅ फिरंगीमहली ने कहा कि आज दुनिया के सभी सम्प्रदाय के लोगों को सरकारे दोआलम सल्ललाहो अलेही वसल्लम की तालिमात से परिचित होना चाहिए उन्होंने जो मनाव सेवा एवं उनके अधिकारों की रक्षा का सबक दिया है उनकी मानव शिक्षा से देश में शान्ति एवं सदभावना का माहौल बनेगा। और देश भाईचारे के साथ विकास की डगर पर चल पड़ेगा। उन्होंने स्वच्छता अभियान पर हो रहे दिखावे पर चोट करते हुए कहा कि यह स्वच्छता अभियान इस्लाम की निशानी है, रसूल इसलिए आये कि वह तुम्हारे दिलों को पाक करें तुम्हारे घरों को पाक करें, समाज को पाक करे| यह स्वच्छता अभियान तो आपने अब चलाया मुसलमान तो 1400 सालों से यह अपना रहा है| मिशन के उपाध्यक्ष शाकिर अली मिनाई उर्फ बाबू भाई ने चुनाव आयोग से माॅग की है कि मतदाता पहचान पत्र के अनुमोदन की समय सीमा बढ़ाई जाए और आधार कार्ड बनवाने के स्थान की संख्या बढ़ाई जाए जिससे आम जनता को आसानी से अपने दस्तावेज दुरुस्त करवाने में मदद मिल सके। सभा में मुख्यरूप से मुख्य अतिथि, मिशन पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मिशन खजाॅची सैयद याकूब अशरफ यूथ सदर सैयद मोहम्मद अहमद मियाॅ, आरिफ मियाॅ नक्शबंदी , डाॅ सैयद शाहाब अशरफ, मौलाना अफफान मियाॅ फिरंगी महली, सैयद जुनैद अशरफ, फैजान अतीक मौलाना ज़ाकिर हुसैन मौलाना, सगीर अहमद, सैयद फाजिल हाशमी, मोहम्मद रिज़वान, सैयद मक्सूद अशरफ, पीर मोहम्मद, नासीर अली मिनाई, इस्माईल भाई आदि

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here