6 वर्ष की बच्ची की हत्या से पहले बलात्कार की हुई थी कोशिश परिजन

    0
    297

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 6 साल की मासूम बच्ची की गला रेत कर हत्या हत्या से पहले बच्ची से बलात्कार की कोशिश का सनसनीखेज मामला सामने आया है। बच्ची जिसका नाम खदीजा था रविवार शाम 4 बजे से घर से लापता थी। थाना ठाकुरगंज के बाबा हजारी बाग निवासी 6 साल की खदीजा रविवार को अचानक ही लापता हो गयी थी। काफी देर तक बच्ची के न दिखने पर परिजनों ने खदीजा की तलाश शुरू की परन्तु बच्ची के न मिलने पर परिजनों ने सहादतगंज पुलिस को घटना की जानकारी दी और बच्ची को ढूंढने की गुहार लगायी। स्थिति उस समय भयावह हो गई जब
    रात होते ही अचानक उस मासूम को गंभीर रूप से घायल अवस्था में आनन-फानन में मेडिकल कॉलेज ट्रामा सेंटर पहुंचाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
    इस घटना की जानकारी पाते ही एसएसपी ने घटनास्थल का मुआयना कर आरोपी युवक बबलू को गिरफ्तार कर लिया।
    परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने बच्ची की खोज करने में मदद नहीं की जिसके कारण ही देर रात बच्ची का गला रेता हुआ मिला वह बच्ची के गुप्त स्थानों से ब्लड निकल रहा था। बच्ची का गला रेता हुआ मिलते ही परिजनों व स्थानीय लोगों में हड़कंप मच गया। लोगों ने पुलिस पर भी लापरवाही का आरोप लगाया है।
    जिसके बाद आक्रोशित क्षेत्र वासियों ने अम्बरगंज चौकी का घेराव भी किया। पुलिस ने शक की बिना पर एक युवक को गिरफ्त में लिया है।
    एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि पुलिस को एक मासूम का गला रेता हुआ मिलने की सूचना मिली थी। यह बच्ची शाम से लापता थी जिसकी तलाश की जा रही थी और वो मासूम उसके पिता के साथ काम करने वाले युवक के घर पर मिली थी। उन्होंने कहा पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है जिसको वह बच्ची मामू बुलाती थी। फिलहाल बच्ची के परिजन की तहरीर मिलते ही आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। मगर परिजनों के अनुसार पुलिस का रवैया गैरजिम्मेदाराना था।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here