सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में हो दिल्ली दंगों की निष्पक्ष जांच: मौलाना कल्बे जवाद

    0
    196

    लखनऊ 7 मार्च 2020 दिल्ली दंगों को लेकर लखनऊ के वरिष्ठ शिया धर्म गुरू मौलाना कल्बे जवाद ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस की। मौलाना ने कहा कि दंगों के दौरान मैं दो बार दिल्ली गया। वहां स्थिति बहुत विकराल थी। मस्जिद में आग लगा दी गयी, कुरान को जलाया गया। बच्चों के बैग और मदरसों को जलाया गया। लोग दूर से बयानबाजी कर रहे थे, सरकार का कोई अधिकारी या आदमी मौके पर नहीं गया। जो गया भी वह फसाद वाली जगहों से दूर रहा। धर्म गुरू ने कहा, हिन्दू क्षेत्रों में मुस्लिमों को काफी क्षति पहुंचाई गयी है। वहां की लाइटें नहीं जल रहीं थीं। हमने मोबाइल की रोशनी से वहां का नजारा देखा। एक जगह मस्जिद के अंदर चार गैस सिलिंडर फटे पड़े थे। वहां का मंजर बहुत भयानक था। दो घरों की छत उड़ चुकी थीं। कुछ लोगों ने बताया कि घरों की छतों को डायनामाइट लगाकर उड़ाया गया है।

    मौलाना ने कहा कि जैसा बर्ताव इस्राइल फिलिस्तीन के साथ करता है। और जो मंजर फिलिस्तीन में रहता है, वैसा ही नजारा वहां का था। हमने हिन्दू भाई से मुलाकात की तो उन्होंने बताया कि उनके बेटे को भी गोली मारी गयी है। कल्बे जवाद ने कहा कि दंगा पीडि.त हिन्दू हों या मुसलमान। हम सभी के साथ हैं। जिसके साथ जुल्म होगा, हम उनकी मदद करेंगे। कहा कि अगर सरकार मुजरिमों को सजा देगी तो हम समझेंगे कि सरकार इस फसाद में शरीक नहीं है। अगर फसाद का कोई आरोपी नहीं पकड़ा गया तो समझेंगे कि यह सरकार ने कराया है। दिल्ली हिंसा की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में हो। तभी निष्पक्ष जांच हो पाएगी। मौलाना ने कहा कि कपिल मिश्रा ने उल्टे सीधे बयान दिए, लेकिन उन्हें सुरक्षा प्रदान कर दी गयी। प्रधानमंत्री मोदी को खुद हस्तक्षेप कर दोषियों को सजा दिलवानी चाहिए।

    मौलाना ने कहा कि दंगे में जो पीड़ित हैं, हम उनकी मदद पैसे से नहीं बल्कि कानूनी सहायता उपलब्ध कराकर करेंगे। हम देश के गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को निष्पक्ष जांच के लिए लेटर लिखेंगे। धर्मगुरू ने कहा कि दिल्ली दंगों के चलते पूरी दुनिया में भारत की थू-थू हो रही है। इंटरनेशनल मीडिया में दिल्ली पुलिस, सरकार और उसके लोगों की बदनामी हो रही है। इस मामले की अगर निष्पक्ष जांच हो तो दुनिया में अच्छा संदेश जाएगा। मौलाना ने कहा, सुन्नी वक्फ बोर्ड में अनियमितता के लिए हमने सीएम योगी से 5 बार मुलाकात की। लेकिन कुछ नहीं हुआ। कल्बे जवाद ने कहा कि आरएसएस के लोग वसीम रिजवी से मिले हुए हैं

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here