सरकार को देश के प्रति अपनी ष्भक्तिष् साबित करने का तरीका इस संकट की घड़ी में बदलना होगा’ ’सुनील सिंह’

    0
    59

     27 जुलाई 2020
    हिंदुस्तान का हर व्यक्ति चाहता था कि राम मंदिर का निर्माण राम जन्मभूमि पर होना चाहिए। यह हो रहा है। यह शुभ संकेत है।श्

    ब्वतवदं काल में मंदिर के भूमि पूजन आयोजन में सैकड़ों लोगों को आमंत्रित करना लोगों के जीवन को संकट में डालना है . लोकदल

    5 अगस्त को प्रधानमंत्री के अयोध्या भूमि पूजन आगमन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील सिंह ने कहा है
    कि ष्भक्तिष् और ष्भक्तोंष् के बीच देश बेहाल नज़र आ रहा है। अपनी भक्ति साबित करने के लिए भक्तों की भीड़ लगी हुई है। सवाल उठाया जा रहा है कि देश के असली  भक्त कौन हैंघ् कौन अपने देश से सबसे ज्यादा  प्यार करता हैघ् आज तक मुझे यह एहसास नहीं हुआ कि मैं देश भक्त हूं या नहींए शायद इसलिए नहीं हुआ क्योंकि मैं इसी देश में पैदा हुआ हूंए इस देश से प्यार करता हूं तो स्वाभाविक रूप से देश के प्रति मेरी भक्ति है। लेकिन जिस तरह से इसके लिए जंग छिड़ी हुई हैए उसे देखकर अब ऐसा एहसास होने लगा है कि सबको देश के प्रति अपनी भक्ति साबित करना जरूरी हो गया है।

    अपनी देश भक्ति साबित करने में लगे हुए हैंए या फिर हाथ में झंडा लेकर गली.गली में श्श्भारत माता की जयश्श् का  नारा लगाना चाहिए।
    देश भक्ति के नाम पर देश में जो हंगामा हो रहा हैए उसे देखकर ऐसा लगने लगा है कि क्या सच में जो लोग हंगामा कर रहे हैंए वह अपने देश से प्यार करते हैं या प्यार की नौटंकी।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here