विकास दुबे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट उठा रही कई सवाल।

    0
    139

    गैंगस्टर विकास दुबे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अब उस पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक विकास दुबे के शरीर में तीन गोलियां लगी थी।
    गैंगस्टर विकास दुबे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अब उस पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक विकास दुबे के शरीर में तीन गोलियां लगी थीं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया कि दो गोलियां विकास के सीने में तो एक उसके कमर में लगी. रिपोर्ट में बताया गया है कि ज्यादा खून बहने की वजह से उसकी मौत हुई. सभी गोलियां विकास दुबे के शरीर के आरपार हो गईं. इससे साफ है कि गोलियां काफी पास से चलाई गई थीं.
    पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद सवाल उठ रहे हैं कि जब विकास भाग रहा था तो गोली उसकी पीठ में लगनी चाहिए थी. विकास की मौत सीने में लगी गोली से हुई. ऐसे में लोग सवाल उठा रहे हैं कि आखिर एसटीएफ जैसी प्रोफेशनल टीम की गिरफ्त में आने के बाद भी कोई अपराधी कैसे भागने लगा. पुलिस ने उसके हाथ क्यों नहीं बांधे थे.

    गाड़ी पलटी को निशान क्यों नहीं
    सवाल उस टीयूवी 300 गाड़ी को लेकर भी हो रहे हैं जिसमें विकास दुबे सवार था. हादसे का शिकार हुई यूपी एसटीएफ के काफिल की ये गाड़ी आखिर कैसे पलटी. स्पीड में चल रही गाड़ी अगर फिसलती है तो सड़क पर उसके टायरों के निशान पड़ जाते हैं, लेकिन यहां पर वो भी नहीं था. और न ही गाड़ी के शीशों को नुकसान पहुंचा है. जानकारी के मुताबिक उज्जैन से कानपुर तक के सफर के दौरान विकास दुबे की गाड़ी दो बार बदली गई. पहली बार तब जब विकास दुबे मध्य प्रदेश से यूपी की सीमा में दाखिल हुआ. तब तक वो एमपी पुलिस की इनोवा कार में बैठा था. यूपी की सीमा में दाखिल होते ही उसे इनोवा से उतार कर सफेद टाटा सफारी गाड़ी में बिठा दिया गया, लेकिन इसके बाद फिर उसकी गाड़ी बदली गई. इस बार ठीक एनकाउंटर से पहले.
    उज्जैन के महाकाल मंदिर की सीसीटीवी फुटैज में विकास दुबे लंगड़ाता हुआ दिखाई दे रहा है. विकास के करीबी पहले ही बता चुके थे कि विकास का काफी दिनों से पैर खराब है. वह ठीक से चल नहीं पाता है. आखिर ऐसा व्यक्ति पुलिस की गिरफ्त से भागने की कोशिश कैसे कर सकता है.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here