लखनऊ में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस चौकी फूकी पथराव और हिंसा

    0
    325

    लखनऊ, 19 दिसम्बर 2019उप्र की राजधानी लखनऊ में खदरा इलाके में नागरिकता संशोधन एक्ट (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने मदेयगंज पुलिस चौकी को तोड़ दिया। प्रदर्शनकारियों के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस टीम ने आंसू गैस के गोले छोड़े। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कई वाहनों को आग लगाकर जमकर हिंसा की है। टीले वाली मस्जिद के पास पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प भी हुई है।
    सीएए और एनआरसी के विरोध में लखनऊ के खदरा इलाके में स्थिति काफी तनावपूर्ण एवं अनियंत्रित हो गयी है। प्रदर्शन करने वालों को रोकने के लिए तैनात पुलिस टीम पर अपराह्न एक बजे के बाद प्रदर्शनकारियों ने जमकर पत्थरबाजी की। इसके बाद पुलिस टीम की तरफ से उनको दौड़ाया गया। सड़क पर आगे बढ़ते हुए पुलिस टीम ने कुछ लोगों को पकड़ा और उनको पुलिस लाइन भेजवाया।
    इसी दौरान प्रदर्शनकारियों ने मदेयगंज पुलिस चौकी को तोड़ दिया जिससे हालात बेकाबू हो गये। मौके पर पहुंचे एसएसपी कलानिधि ने अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया और दूसरी ओर से सड़क पर मौजूद लोगों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया। इसी बीच कुछ लोगों ने शिया पीजी कालेज की ओर से पुलिस टीम पर पीछे से पत्थर चलाना शुरू कर दिया। बढ़ते तनाव को देखकर एसएसपी ने प्रदेश के आला पुलिस अधिकारियों से वार्ता की और जल्द ही पुलिस बल को मौके पर भेजने को कहा। इमामबाड़ा के पास तैनात पुलिस बल को इसके बाद मौके पर भेजा गया है। प्रदर्शनकारियों ने बाइक जला दी एवं बोलेरो में आग लगा दी।
    वहीं दूसरी तरफ सपा प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठी भांजी। सपा के लोग कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस ने उग्र हुए प्रदर्शनकारियों पर लाठी चार्ज किया।
    खदरा इलाके में हालात बेकाबू होने पर दंगा नियंत्रण वाहन मौके पर पहुंचा है। रूमी गेट के सतखंडा पुलिस चौकी में भी आग लगाई गई।
    हज़ारो की संख्या में।प्रदर्शनकारी
    फिलहाल पूरे लखनऊ में तनाव है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here