रहमत नामक वक़्फ़ अधिकारी को बार-बार लखनऊ में रामपुर सआईटी की टीम को दबिश डालने के बाद भी ना गिरफ्तार कर पाने पर आज कोर्ट से जारी कुर्की का नोटिस रहमत के घर वजीरगंज में टीम ने चस्पा किया।

    0
    84

    कस्टोडियन जमीन को फ़र्ज़ी तरीक़े से शिया वक़्फ़ में पंजीकृत करके जौहर विश्विद्यालय रामपुर को लाभ पहुँचाने में लखनऊ में नई करवाई।

    ज्ञात हो इस केस में पूर्व मंत्री आजम खान अपनी पत्नी और बेटे के साथ पहले से ही जेल में है।

    कुछ दिन पहले शिया वक़्फ बोर्ड  के पूर्व सीईओ सैयादेन को रामपुर की sit टीम ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था।

    इस सबन्ध में बनाई गई SIT टीम रामपुर को अभी कई वक़्फ़ के अधिकारियों की है तलाश।

    इस क्रम में रहमत नामक वक़्फ़ अधिकारी को बार-बार लखनऊ में रामपुर सआईटी की टीम को दबिश डालने के बाद भी ना गिरफ्तार कर पाने पर आज कोर्ट से जारी कुर्की का नोटिस रहमत के घर वजीरगंज में टीम ने चस्पा किया।

    SIT की टीम को अभी भी कई वक़्फ़ में कार्यरत लोगो की तलाश है।

    SIT  टीम में कई बड़े नाम है और वो भी जांच के घेरे में आ चुके है।

    ज्ञात हो सपा सरकार में खुलेआम वक़्फ़ की जमीनों में धांधली की शिकायते हो रही थी थी।

    लखनऊ के एक प्रसिद्ध मौलाना वक़्फ प्रॉपर्टी धांधली को रोकने के लिए सीबीआई जांच की मांग कई वर्षों से कर रहे थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here