योगी सरकार में जंगलराज चरम पर। कांग्रेस

    0
    202

    लखनऊ 24 मई।
    कोरोना महामारी के चलते एक तरफ पूरा प्रदेश लाॅकडाउन से प्रभावित है वहीं दूसरी तरफ योगी सरकार में जंगलराज चरम पर है। प्रदेश की कानून व्यवस्था की नाकामी के चलते अभी तक सैंकड़ों हत्याएं तथा बलात्कार और हिंसा की घटनाओं में बाढ़ आ गयी हैं। चाहे एटा एवं प्रयागराज में परिवार की सामूहिक हत्या हो, आगरा के बाह में दो नाबालिग किशोरियों का सामूहिक बलात्कार हो, चन्दौली में दबंगों द्वारा किसान को अधमरा करने की घटना हो और अब प्रतापगढ़ के पट्टी थाने के गोविंदपुर-परसठ गाँव मे दबंगो द्वारा शासन और पुलिस की मिलीभगत से दबंगों द्वारा किसानों को जमकर पीटे जाने और उनके घर जला दिये की घटना हो। यह सभी घटनाएं प्रदेश में जंगलराज की कहानी बयां कर रही हैं।

    प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष श्री वीरेन्द्र चैधरी ने प्रतापगढ़ की घटना पर कड़ा ऐतराज जताते हुए कहा है कि प्रतापगढ़ में गुण्डाराज का बोलबाला है। गरीब और किसान असुरक्षित हो गए हैं। पट्टी थाने के गोविन्दपुर-परसठ गांव में एक मामूली विवाद में जिस प्रकार सरकार और प्रशासन की मिलीभगत से न सिर्फ दबंगों द्वारा किसानों को बर्बर मारा-पीटा गया बल्कि पुलिस ने भी पीड़ित पक्ष के लोगों की बहन, बेटियों, बच्चों, सभी को दौड़ा दौड़ाकर पीटा गया है। यहाँ तक कि आगजनी के दौरान अबोध जानवरों को भी जला दिया गया है और उनके घरों का अनाज लूट लिया गया है। कांग्रेस पार्टी ऐसी घटनाओं को कतई बर्दाश्त नहीं करेगी।

    श्री चैधरी ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री श्री मोती सिंह उसी क्षेत्र से विधायक हैं और दबंगों को उनका संरक्षण प्राप्त है। पट्टी थाने के केातवाल की भी संलिप्तता इस घटना में परिलक्षित हुई है ऐसे में दोषियों पर कड़ी कार्यवाही करते हुए प्रतापगढ़ के एस0पी0 को तत्काल बर्खास्त किया जाए।

    पट्टी से पूर्व विधायक श्री राम सिंह पटेल ने इस घटना की कड़ी निन्दा करते हुए कहा है कि योगी सरकार में पिछड़े वर्ग पर लगातार अत्याचार हो रहा है और सरकार में बैठे पिछड़े वर्ग के मंत्री और विधायक मौन हैं।

    प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री श्री मनोज यादव ने इस घटना पर रोष व्यक्त करते हुए कहा कि प्रतापगढ़ में पिछड़े वर्ग के लोगों को जिस प्रकार स्थानीय विधायक की शह पर दबंगों द्वारा मारा-पीटा गया है, जिसमें स्थानीय पुलिस प्रशासन की भी संलिप्तता रही है, कांग्रेस पार्टी इसकी घोर निन्दा करती है और मांग करती है कि इस घटना की निष्पक्ष जांच कराकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here