ना आपातकाल में रुकी थी, ना युद्धकाल में थमी हूँ ! सावधानी थी समय की माँग, उसे पूरा करने में जुटीं हूँ रेलवे मंत्रालय

    0
    120

    नई दिल्ली: Coronavirus Pandemic: भारत सहित पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस की महामारी का सामना कर रही है। कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण जिंदगी में मानो ठहराव सा आ गया है. जो जहां है, वहीं रुककर रह गया है। देश में इस समय 17 मई तक लॉकडाउन जारी है। इस दौरान एक माह से लंबे समय तक देश की यात्री रेल सेवा भी रोकनी पड़ी है। कुछ समय पहले ही ट्रेनों के जरिये विभिन्‍न राज्‍यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए विशेष श्रमिक ट्रेन चलाई गई। मंगलवार से ही देश में सीमित संख्‍या में यात्री ट्रेनों का संचालन शुरू किया है। कुछ खास शर्तों के साथ शुरू की गई इस यात्री ट्रेन सेवा का देशभर में स्‍वागत हुआ है।
    रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) ने इस अवसर पर एक ट्वीट किया है। जिसमें लिखा है-ना आपातकाल में रुकी थी, ना युद्धकाल में थमी हूँ ! सावधानी थी समय की माँग, उसे पूरा करने में जुटीं हूँ ! देशवासियों की सेवा में, स्टेशन पर तैयार खड़ी हूँ ! मैं भारत की जीवन रेखा, करने देश की सेवा, फिर से अपनों को अपनों से मिलाने,आज फिर से चल पड़ी हूँ ! भारतीय रेल ! रेलवे के इस ट्वीट के साथ पटरी पर दौड़ती ट्रेन का वीडियो में है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here