नबी ए करीम की शान में गुस्ताखी हिन्दुस्तान की सभ्यता पर बदनुमा दाग : हज़रत सैय्यद अय्यूब अशरफ किछौछवी

    0
    93

    12 अगस्त 2020 बुधवार लखनऊ
    आल इंडिया मोहम्मदी मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हज़रत सैय्यद अय्यूब अशरफ किछौछवी ने कल बैंगलुरू में एक लड़के द्वारा फेसबुक पर पोस्ट कर पैगम्बरे इस्लाम की शान में अभद्र एवम अशोभनीय टिप्पणी किए जाने पर अपने गुस्से का इज़हार करते हुए कहा कि इस तरह की घटनाओं को सरकार फौरन रोके और दोषी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए। वरन् यह देश हीत मे अच्छा नही है इस तरह की घटना जो नबी ए करीम की शान में गुस्ताखी हिन्दुस्तान की सभ्यता पर बदनुमा दाग और सरकार की नाकामी को दर्शाता है कि आज देश मे इस तरह की हरकत बड़ती जा रही हैं और जब दोषी किसी विधायक के परिवार से सम्बन्ध रखने वाला हो तो मुसलमान क्या समझेगा जैसा कि हम सब जानते कि कल शाम बैंगलुरू में यह खबर फैलते ही कि किसी विधायक के भतीजे ने ऐसी पोस्ट की है वहां के स्थानीय लोगों ने विधायक के घर के बाहर जमा होकर प्रदर्शन किया और उसके बाद पुलिस से उस लड़के की गिरफ्तारी की मांग की।
    श्री अशरफ ने कहा जो लोग देश तोड़ना चाहते हैं और देश में नफरत फैलाना चाहते हैं उनके द्वारा ही इस तरह का काम किया जा रहा है सुरक्षा एजेंसियों को इस पर कड़ी निगाह रखनी चाहिए और ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्ती से निपटा जाना चाहिए दरअसल ऐसे लोग वैचारिक आतंकवादी हैं, जो देश के लिए बहुत बड़ा खतरनाक है ।
    श्री अशरफ ने कहा कि मुसलमानों को कानून के दायरे में रहकर विरोध दर्ज कराए क्योंकि अगर हम आज खामोश रहे तो कल कयामत के दिन आका को क्या मुह दिखाऔ गे मगर हिंसा करने वालो से बचो और पैगम्बर की तालीम पर अमल करो और कानून का उल्लंघन करके पैगम्बर की तालीम को अनदेखा मत करना और इस बात का ख्याल रखा जाए कि लोकतांत्रिक तरीके से ही अपनी बात रखी जाए ।
    पथराव और आगजनी की तालीम हमें हमारा मजहब नहीं सिखाता पैग़म्बरे इस्लाम की शान में ज़रा भी गुस्ताखी मुसलमान बर्दाश्त नहीं कर सकता ऐसा करने वाले इंसानियत के दुश्मन हैं और देश के गद्दार वैचारिक आतंकवाद को बड़ावा देकर देश की गंगा जमुनी तहज़ीब को खत्म करके देश को बरबाद करना चहते है हम देश के हर नागरिको से अपील करते है कि देश की एकता और आख्णता को बचाने के लिए ऐसे अपराधी मान्सिकता वाले व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराए।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here