जैसे हर चमकती चीज़ सोना नहीं होती। वैसे ही टपकती हुई नाक कोरोना नहीं होती। डॉ सूर्यकांत- केजीएमयू

    0
    437

    लखनऊ 10 अप्रैल 2020 मौसम में अचानक बदलाव के कारण सर्दी ,खांसी ,ज़ुकाम होना ,आंख से आंसू बहना आम बात है, लेकिन पूरी दुनिया में हाहाकार मचा देने वाले कोरोनावायरस के लक्षणों का भी जुखाम की तरह होना डर की बात है। ऐसे में कोरोना वायरस के लक्षणों के बारे में जानना बहुत जरूरी है।
    कोरोना वायरस के लक्षणों के बारे में दि रिवोल्यूशन न्यूज ने केजीएमयू के डाक्टर सूर्यकांत से बात की उन्होंने विस्तार से इस विषय पर प्रकाश डाला।
    *बुखार*- केजीएमयू के डॉ. सूर्यकांत के अनुसार, आमतौर पर जुखाम में बुखार 101 डिग्री तक हो सकता है, लेकिन कोरोना वायरस में बुखार 101 डिग्री से ऊपर तक बढ़ सकता है। यदि बुखार 101 डिग्री से अधिक और सुखी खासी के साथ पूरे बदन में शदीद दर्द हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
    *सूखी खांसी* सर्दी-जुकाम में खांसी आते समय कफ निकलता है, लेकिन कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज को सूखी खांसी आती है। कोरोना वायरस के लक्षण 5 से 7 दिनों में पता लगते हैं, जिसमें सूखी खांसी के लक्षण महसूस हो सकते हैं।
    *सांस लेने में बहुत तकलीफ*
    यदि बुखार के साथ सर्दी-खांसी हो रही हो और साथ में सांस लेने में भी तकलीफ महसूस हो रही है तो यह कोरोना वायरस का एक महत्वपूर्ण लक्षण हो सकता है।
    *सर्दी-जुकाम*-कोरोना वायरस के लक्षणों में सर्दी ज़ुकाम भी एक लक्षण है, लेकिन सिर्फ सर्दी-जुकाम ही कोरोना का लक्षण नहीं माना जा सकता है। इसलिए घबराने की जरूरत नही है।
    डॉ सूर्यकांत ने कहा जो लोग धूम्रपान करते हैं उनको भी खांसी आती है इसका मतलब यह नहीं है कि उसे कोरोना है।
    डॉ सूर्यकांत ने जनता से अपील करते हुए कहा कि साफ सफाई रखें, घर में रहें, हाथ धुलते रहें, गर्म पानी चाय का इस्तेमाल करें, ठंडी चीजों से बचें।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here