जुमे की नमाज़ के बाद देश में अमन-भाईचारे की दुआ,दिल्ली की घटना पर हाई लेवल ज्यूडिशियल इंक्वायरी की मांग

    0
    820

     

    लखनऊ 28 फरवरी 2020 दिल्ली में हिंसा थमने का बाद से ही देशभर में राजधानी के लिए अमन और चैन की दुआ का दौर शुरू हो गया है। शुक्रवार को जुमे की नामाज़ को देखते हुए लखनऊ में जहाँ कड़े बंदोबस्त किए गए, तो वहीं मस्जिदों से भी देश की सलामती और अमन की सदाये सुनाई दी। जुमे की नामाज़ में लखनऊ ईदगाह में बड़े पैमाने पर लोगों ने नामाज़ के बाद मुल्क की हिफाज़त और आपसी भाईचारे की सलामती की दुआ की।

    बता दें कि, पिछले कुछ दिनों से बिगड़े दिल्ली के हालात और दंगो की आग बुझने के बाद देशभर से दिल्ली के लिए दुआएं हो रही है। शुक्रवार को जुमे की अहम नामाज़ में विशेष तौर से मस्जिदों से अमन और चैन की दुआएं की गई। प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जुमे की नामाज़ को देखते हुए सभी मस्जिदों के बाहर कड़ी सुरक्षा तैनात रही। वहीं मस्जिदों में भी बड़े पैमाने पर पहुँचकर लोगों ने नामाज़ अदा की।

    लखनऊ ईदगाह में धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद राशीद फ़िरंगी महली ने जुमे की नामाज़ अदा कराई। साथ ही नामाज़ के बाद दिल्ली के लिए विशेष दुआ की गई। मीडिया से बात करते हुए ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वर्किंग कमिटी के सदस्य और मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद राशीद फ़िरंगी महली ने कहा कि दिल्ली में जो फ़साद हुए वह बेहद अफ़सोसनाक है और उसकी सख्त अल्फ़ाज़ में निंदा करते है। सरकार से फिर एक बार मांग करते है कि हाई लेवल ज्यूडिशियल इंक्वायरी ऑर्डर करें। जांच तय समय सीमा के तहत हो और जो लोग भी कसूरवार हो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाई की जाए। फ़िरंगी महली ने बताया कि लखनऊ शहर के साथ मुल्क के कई शहरों में दिल्ली के लिये अमन शांति की दुआ की गई है। जिनकी जाने इस दंगे में गई है उन सबके परिवारों को अल्लाह हिम्मत दें और जिनको कारोबारी नुख्सान हुआ है उनके कारोबार वापस से पटरी पर लौट सकें।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here