जांच होने तक पतंजलि ग्रुप को इस दवा का प्रचार-प्रसार बंद कर देना चाहिए।आयुष मंत्रालय

    0
    245

    बाबा रामदेव के पतंजलि ग्रुप द्वारा कोरोना से बचाव के लिए लांच की गई ‘कोरोना किट’ को लेकर केंद्र सरकार आयुष मंत्रालय की ओर से मंगलवार शाम को कहा गया था कि जांच होने तक पतंजलि ग्रुप को इस दवा का प्रचार-प्रसार बंद कर देना चाहिए। अब पतंजलि ग्रुप की कोरोना दवा को लेकर सरकार के आयुष मंत्री श्रीपद नाइक की प्रतिक्रिया सामने आई है. केंद्रीय मंत्री नाइक ने कहा कि यह एक अच्छी बात है कि योगगुरु ने देश को एक नई दवा दी है, लेकिन इसे आयुष मंत्रालय की ओर से उचित अनुमति की जरूरत है। उन्‍होंने पुष्टि की कि पतंजलि ग्रुप ने इस दवा से संबंधित दस्तावेज कल ही मंत्रालय को भेजे थे।
    आयुष मंत्री ने कहा, “यह अच्छी बात है कि बाबा रामदेव ने देश को एक नई दवा दी है, लेकिन नियमों के अनुसार, उन्‍हें पहले आयुष मंत्रालय में आना होगा। मंत्री ने यह भी कहा कि उन्होंने एक रिपोर्ट भी भेजी है। हम इस पर विचार करेंगे और रिपोर्ट देखने के बाद अनुमति दी जाएगी। केंद्रीय मंत्री ने जोर देकर कहा, “कोई भी दवाई बना सकता है। जो कोई भी दवा बनाना चाहता है, उसे आयुष मंत्रालय के टास्क फोर्स से गुजरना पड़ता है। सभी को आयुष मंत्रालय को पुष्टि के लिए अनुसंधान का विवरण भेजना पड़ता है। यह नियम है और कोई भी इसके बिना अपने उत्पादों का विज्ञापन नहीं कर सकता है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here