उत्तर प्रदेश में प्रवासी मज़दूरों को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बीच खींचतान

    0
    215

    लखनऊ 20 मई 2020

    उत्तर प्रदेश में प्रवासी मजदूरों को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बीच खींचतान बढ़ती जा रही है। प्रियंका गांधी ने प्रवासी श्रमिकों के लिए 1000 बसें भेजने के लिए प्रदेश सरकार से अनुमति मांगी थी। उनका आरोप है कि यूपी सरकार उन्हें बसें चलाने के अनुमति नहीं दे रही है। वहीं योगी का आरोप है कि कांग्रेस से बसों का डीटेल मांगा गया था, लेकिन वह उन्हें नहीं दिया गया। इससे यूपी की सियासत गरमा गई है।
    प्रियंका गांधी ने मंगलवार को एक बार फिर से आगरा के बॉर्डर पर बसें लगा दीं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के कार्यालय ने योगी सरकार पर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि श्रमिकों को उनके गंतव्य तक ले जाने के लिए दिल्ली-उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर खड़ी 1000 बसों को दस्तावेज समेत लखनऊ भेजने की उत्तर प्रदेश शासन की मांग राजनीति से प्रेरित है। यह भी कहा गया कि लगता है प्रदेश सरकार मुश्किल में फंसे मजदूरों की मदद नहीं करना चाहती।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here